अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति, बिहार

पटना, 9 अगस्त 2022

आज पटना के जमाल रोड स्थित किसान सभा कार्यालय में अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति के बैनर तले बिहार के किसान संगठनों, ट्रेड युनियनों, छात्र और युवा संगठनों, और पूर्व सैनिकों के प्रतिनिधियों की बैठक हुई।बैठक की अध्यक्षता अखिल भारतीय किसान महासभा के राज्य सहसचिव कॉमरेड उमेश सिंह ने किया । 

बैठक संयुक्त किसान मोर्चा द्वारा आहुत “जय जवान जय किसान सम्मेलन” के क्रियान्वयन के एजेंडे पर बुलाई गई थी। संयुक्त किसान मोर्चा ने 3 जुलाई को आयोजित अपनी राष्ट्रीय बैठक में 7 अगस्त से 14 अगस्त तक सेना-भर्ती की नई अग्निपथ योजना के खिलाफ देश भर में जय-जवान जय-किसान सम्मेलन आयोजित करने का निर्णय लिया था। इस अभियान को पूर्व सैनिकों का मोर्चा “यूनाइटेड फ्रंट ऑफ एक्स सर्विसमैन” ने भी अपना सर्मथन और एकजुटता दिया है। केंद्र सरकार की सेना भर्ती की विनाशकारी अग्निपथ योजना के खिलाफ आज देश के किसान, पूर्व सैनिक और युवा एकजुट हैं।

किसान नेताओं ने बताया कि बिहार अग्निपथ योजना के खिलाफ आन्दोलन का प्रमुख केंद्र रहा है, और बिहार के युवा बेरोजगारी से सबसे अधिक प्रभावित हैं। इस संदर्भ में बिहार के सभी जिलों के केंद्र सरकार की सेना भर्ती की विनाशकारी अग्निपथ योजना के खिलाफ “जय जवान जय किसान सम्मेलन” आयोजित किया जाएगा। राजधानी पटना में गांधी संग्रहालय में 12 अगस्त को 12 बजे अपराह्न से इस सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा। इस सम्मेलन में किसान संगठनों के साथ-साथ ट्रेड युनियन, छात्र और युवा संगठन, और पूर्व सैनिक भी हिस्सा लेंगे।

किसान नेताओं ने कल संसद में पेश किए गए विद्युत (संशोधन) विधेयक के खिलाफ भी कड़ा विरोध जताया। यह विधेयक केंद्र सरकार द्वारा किसानों से किए गए लिखित आश्वासन के साथ एक बड़ा विश्वासघात है। विद्युत (संशोधन) विधेयक 2022 का उद्देश्य बिजली वितरण के क्षेत्र में निजी कंपनियों का प्रवेश सुगम करना है। यह हमारे देश के किसानों और अन्य सभी वर्गों के लोगों के लिए बिजली दरों में बढ़ोतरी करके निजी कंपनियों को भारी मुनाफा देगा। बिहार के किसान नेताओं ने विद्युत (संशोधन) विधेयक के खिलाफ विरोध प्रदर्शन और बिल की प्रतियां जलाने का आह्वान किया।

बैठक में पूर्व सैनिक कैप्टन सर्वोदय शर्मा (सेवानिवृत्त), किसान सभा (जमाल रोड) के विनोद कुमार और सोना लाल प्रसाद, किसान महासभा के उमेश सिंह, किसान मजदूर खेत संगठन के नंद किशोर सिंह और सुभाष यादव, जय किसान आंदोलन के ऋषि आनंद, राष्ट्रीय किसान मोर्चा के वी०वी० सिंह, किसान संघर्ष मंच के मनोज कुमार, सीटू के गणेश शंकर सिंह और दीपक भट्टाचार्य, भाकियू के हेमंत कुमार, एसएफआई के मुकुल राज, सहित अन्य नेता उपस्थित थे। 
*जारीकर्ता*विनोद कुमार, उमेश सिंह, नंद किशोर सिंह, ऋषि आनंद, वी०वी० सिंहअखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *