बिहार: ‘प्रणाम सर! नहर में पानी नहीं आ रहा सर, आप पीएम बनिएगा.. हम किसान भूखे मर जाएंगे’

समाधान यात्रा के तहत बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भोजपुर जिले के दौरे पर थे। उन्होंने तीन प्रखंडों में इस यात्रा के तहत सरकार के विकास कार्यों का जायजा लिया। कई योजनाओं का उद्घाटन भी किया। इस दौरान मुख्यमंत्री संदेश प्रखंड के संदेश पंचायत पहुंचे थे, जहां वो कचरा अपशिष्ट प्रबंधन के इकाई का उद्घाटन करने के बाद आगे बढ़ रहे थे, तभी एक किसान ने मुख्यमंत्री के कदम को रोक दिया। नहर में पानी नहीं पहुंचने को लेकर उसने मुख्यमंत्री से अपनी गुहार लगाई।

 ‘प्रणाम सर, नहर में पानी नहीं आ रहा है सर। नहर में पानी 10 साल से नहीं आ रहा है। यहां पर विकास कुछ नहीं हुआ है, नहर में पानी नहीं आ रहा है। हमलोग किसान मर रहे हैं। आप बिहार के मुख्यमंत्री हैं सर। यहां पानी एक बूंद नहीं आ रहा सर। भूखे सर.. मर जाएंगे। आप बचाइए सर।’ जब नीतीश (Nitish Kumar) को रास्ते में एक किसान ने रोककर अपनी बात बताना शुरू किया तो एक सुर में बोलता चला गया। दोनों हाथ जोड़कर उसने मुख्यमंत्री को अपनी बात बताई।

किसान ने रोका ‘सरकार’ के कदम

अपने समाधान यात्रा के सिलसिले में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गुरुवार को भोजपुर जिले के तीन प्रखंडों का दौरा किया। इस दौरान संदेश प्रखंड में सीएम नीतीश का कार्यक्रम रखा गया था। उनके साथ डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव भी मौजूद थे। सीएम नीतीश लाव-लश्कर के साथ पैदल जा रहे थे। दोनों किनारों पर लोगों की भीड़ थी। नीतीश कुमार जिंदाबाद के नारे लगाए जा रहे थे। मगर एक किसान ने ठान रखी थी कि वो अपनी बात सीएम नीतीश तक पहुंचा कर ही मानेगा। जैसे ही सीएम नीतीश और डिप्टी सीएम तेजस्वी उसके सामने से गुजर रहे थे तो उसने एक सुर में बोलना शुरू कर दिया।

‘प्रणाम सर, नहर में पानी नहीं आ रहा’

प्रणाम से अपनी बात शुरू करने वाले किसान ने पूरी सरकार की पोल खोल दी। उसने कहा कि ‘प्रणाम सर, नहर में पानी नहीं आ रहा है सर। नहर में पानी 10 साल से नहीं आ रहा है। यहां पर विकास कुछ नहीं आ रहा है, नहर में पानी नहीं आ रहा है। हमलोग किसान मर रहे हैं। आप बिहार के मुख्यमंत्री हैं सर। यहां पानी एक बूंद नहीं आ रहा सर। भूखे मर जाएंगे सर। आप बचाइए सर। हम किसान आधारित हैं सर।’ किसान लगातार बोलता चला जा रहा था। इस दौरान नीतीश कुमार का हाव-भाव पूरी तरह बदल गया। वो जानने की कोशिश कर रहे थे कि आखिर किसान को क्या परेशानी है?

‘…आप पीएम बननेवाले हैं सर’

संदेश प्रखंड के इस किसान को ये मालूम था कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार 2024 में प्रधानमंत्री भी बन सकते हैं। इस दौरान उसने कहा कि ‘आप पीएम बनिएगा सर। आप पीएम बननेवाले हैं सर।’ इसके बाद अधिकारियों और सीएम को समझने में कुछ वक्त लगा। फिर नीतीश कुमार ने अधिकारियों के ओर इशारा किया तो इत्मीनान से किसान ने कहा कि ‘सर नहर में पानी नहीं आ रहा।’ अफसरों ने पूछा कि कहां का मामला है? फिर किसान ने कहा कि ‘यहां पर हमारे नहर में। हमारे संदेश में पानी नहीं आ रहा है सर।’ इसके बाद नीतीश कुमार को कुछ अफसरों ने पूरे मामले को समझाया। जब संदेश का ये किसान सीएम को बीच रास्ते में रोककर अपनी बात कह रहा था तो उस वक्त नीतीश कुमार के साथ बिहार के वो सभी बड़े अफसर मौजूद थे, जो किसी भी सरकार को चलाते हैं। योजानाओं को जमीन पर उतारते हैं।

अफसरों को जल्द कार्रवाई का निर्देश

भोजपुर जिले के संदेश प्रखंड के नहर में पानी नहीं रहने की शिकायत सीएम से किसान ने की। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने किसान की बात को गंभीरता पूर्वक सुना। दरअसल, भोजपुर जिले का ये दक्षिणी इलाका धान के कटोरा के रूप में मशहूर है लेकिन नहरों में पानी नहीं आने के कारण किसान काफी परेशान रहते हैं। इसी को लेकर अपना दुखड़ा सुनाते हुए एक किसान ने मुख्यमंत्री से गुहार लगाई। थोड़ी देर के लिए सभी लोग सकते में पड़ गए, बाद में नीतीश कुमार ने संबंधित पदाधिकारियों को इस पर जल्द कार्रवाई करने का निर्देश दिया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *